बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से बंद कमरे में पूछताछ – बिहार और उत्तर प्रदेश विशेष कवरेज के साथ

बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से बंद कमरे में पूछताछ

सीबीआई ने शुक्रवार को आरजेडी चीफ लालू प्रसाद यादव के 12 ठिकानों पर छापा मारा है। पटना में लालू-राबड़ी के घर की तलाशी ली गई। सीबीआई ने पूर्व रेलमंत्री लालू यादव, राबड़ी देवी, बेटे तेजस्वी और आईआरसीटीसी के पूर्व मैनेजिंग डायरेक्टर के खिलाफ केस दर्ज किया है।

सूत्रों के अनुसार सीबीआइ अधिकारी लालू यादव के छोटे पुत्र और बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से बंद कमरे में पूछताछ की। साथ ही लालू आवास से कई कागजात भी जब्त किये गये हैं।

राबड़ी देवी और तेजस्वी के बयान को सीबीआइ अधिकारियों ने सीलबंद लिफाफे में बंद किया है। पूछताछ के दौरान राबड़ी देवी और तेजस्वी को नजरबंद कर दिया गया था। केवल तेजप्रताप यादव ही अपने आवास में घूम रहे थे।

लालू प्रसाद के वकील ने आवास से बाहर निकलकर मीडिया को बताया कि छापेमारी और तलाशी में लालू जी का पूरा परिवार सहयोग कर रहा है। उन्होंने दावा किया कि अबतक सीबीआइ को ऐसा कोई दस्तावेज, नकदी आदि नहीं मिली है।

आरोप है कि 2006 में, जब लालू रेलमंत्री थे, तब रांची और पुरी के टेंडर जारी करने में गड़बड़ी की गई। बता दें कि 1000 करोड़ की बेनामी प्रॉपर्टी के मामले में 16 मई को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने लालू से जुड़े 22 रियल एस्टेट कारोबारियों के यहां छापेमारी की थी।

वही राजद मुखिया लालू प्रसाद यादव ने कहा कि वह भाजपा की गीदड़ भभकी से डरने वाले नहीं हैं। मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है। यह भी मालूम नहीं कि मामला क्या है। सीबीआई से तुरंत केस भी हो जाता है और छापे भी पड़ने लगते हैं। लालू ने कहा मैंने जो भी किया वह कानून के दायरे में किया। उन्होंने कहा, मैंने कुछ गलत नहीं किया, कार्रवाई सियासी साजिश है।
रांची सीबीआई कोर्ट से बाहर निकलते ही यादव ने कहा कि भाजपा और आरएसएस वाले हमें झुकाना चाहते हैं इसलिए छापेमारी की गई है। मोदी सरकार पटना में 27 को होने वाली आरजेडी की रैली को फ्लॉप करना चाहती है, इसलिए सीबीआई के माध्यम से लगातार हमले हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह हर उस आदमी पर हमला करवा रहे हैं जो गरीबों की बात करता है या उनका विरोध करता है।

READ  योगी आदित्यनाथ सरकार की पहली कैबिनेट बैठक में बड़ा फैसला, 86 लाख किसानों के 1 लाख तक के कर्ज माफ

लालू ने कहा कि मैं सीबीआई से डरने वाला नहीं हूं। आधी जिदंगी मेरी इनसे लड़ते हुए ही बीती है। सीबीआई जहां बुलाएगी वहां मैं उपलब्ध हो जाऊंगा।
उन्होंने कहा कि आईआरसीटीसी एक स्वतंत्र एजेंसी है। उसके अधिकारी को बोला है कि एफआईआर दर्ज कराओ। मैं बताना चाहता हूं हम भाजपा और मोदी को हटा कर दम लेंगे। किसी का भी अहंकार सफल नहीं हुआ।

Facebook