नीतीश का रुख गरम, तेजस्वी को आखिरी मौका, जनता के सामने तेजस्वी रखे अपनी बात – बिहार और उत्तर प्रदेश विशेष कवरेज के साथ

नीतीश का रुख गरम, तेजस्वी को आखिरी मौका, जनता के सामने तेजस्वी रखे अपनी बात

बैठक के बाद जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने प्रेसवार्ता कर तेजस्वी के इस्तीफे को लेकर जारी सियासी घमासान पर कहा कि पार्टी गठबंधन धर्म का पालन करना जानती है। तेजस्वी यादव का नाम लिये बगैर नीरज कुमार ने कहा कि जिनपर आरोप लग रहे हैं, वे जनता की अदालत में इस बारे में विवरण दें। सहयोगी पार्टी से भी वह ऐसा ही अपेक्षा भी रखता है।
जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि जब भी इस तरह के आरोप लगे तब-तब पार्टी ने कार्रवाई की है। अपने मंत्रियों पर कार्रवाई की है। जदयू ने कहा कि सिद्धांतों से समझौता नहीं करेंगे।

इससे पहले बैठक के बाद जदयू के वरिष्ठ नेता रमई राम ने मीडिया से बातचीत में कहा कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे के मुद्दे पर पार्टी चार दिन बाद कोई फैसला लेगी। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को इस मामले में अाखिरी निर्णय लेने के लिए अधिकृत किया गया है।

गौरतलब हो कि बिहार सरकार में सहयोगी राजद प्रमुख लालू यादव और उनके परिवार के सदस्यों से जुड़े 12 ठिकानों पर सीबीआइ ने शुक्रवार को छापेमारी की थी। इस मामले में सीबीआइ की ओर से दर्ज एफआइआर में तेजस्वी यादव का नाम भी शामिल है. तेजस्वी के यहां सीबीआइ छापों के बाद जदयू नेताओं की आज बड़ी बैठक बुलायी गयी।
इसके पहले सोमवार को राजद की बैठक में पार्टी ने उपमुख्यमंत्री तेजस्‍वी यादव पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों और बीजेपी के इस्तीफे की मांग को खारिज करते हुए स्पष्ट कहा कि तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे। इससे बढ़े राजनीतिक तापमान का आकलन करते हुए बीजेपी ने नीतीश कुमार से कहा है कि अगर वो लालू का साथ छोड़ दें तो हम बाहर से समर्थन देेने को तैयार हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अंतिम फैसला केंद्रीय नेतृत्व का होगा।

READ  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप बने TIME पर्सन ऑफ द ईयर
Facebook